Wednesday, April 01, 2020
Follow us on
-
हिमाचल

मंडी में खुले रहेंगे बीजों व किसानी से जुड़ी दवाईयों के स्टोर सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक रहेगी टाइमिंग

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | March 26, 2020 06:06 PM

मंडी,

 

उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि मंडी जिला में पशुओं के चारे की आपूर्ति से जुड़ी गतिविधियों को लेकर आवाजाही की अनुमति के साथ साथ खेतीबाड़ी के लिए दवाईयों व बीजों के स्टोर खुले रखने का निर्णय लिया गया है। मंडी जिला में शुक्रवार से बीज व पौधों व फसलों की दवाइयों के स्टोर सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे के बीच खुले रहेंगे। लोग बागवानी विभाग या नजदीकी प्राइवेट स्टोर से ये सामग्री खरीद सकते हैं।उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों, बागवानों की सहुलियत के लिए जो मददगार कदम उठाए हैं उसी के दृष्टिगत मंडी में भी कर्फ्यू में कुछ और छूट दी गई हैं।
उन्होंने कहा कि जिला में कोल्ड स्टोरेज और वेयर हाउसिंग, प्राइवेट सिक्योरिटी को छूट के अलावा ट्रेजरी व बीमा कंपनियों के कर्मचारियों को भी अनुमति दी गई है।
इसके अलावा वन विभाग की नर्सरी, जू इत्यादि के रखरखाव और वन संरक्षण से जुड़े कार्यों के मद्देनजर विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को कार्य के लिए आवाजाही की अनुमति दी गई है।
9805970400 पर करें व्हाट्सएप
उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि मंडी जिला में प्रशासन ने लोग की सहायता के लिए एक और पहल की है। लोगों के कर्फ्यू को लेकर और लॉकडाउन को लेकर कुछ सवाल हैं, या उन्हें कोई स्पष्टीकरण चाहिए तो वे 9805970400 पर व्हाट्सएप करें। मंडी जिला प्रशासन के इस व्हाट्सएप नंबर पर उनके हर सवाल का तुरंत जबाव मिलेगा।
इसके लिए एक व्यक्ति विशेषतौर पर इसी काम के लिए बैठाया गया है। ताकि जो भी सवाल आए उसे तुरंत उत्तर दिया जाए। अगर वह समस्या उच्च अधिकारियों को ध्यान में लाने की है तो वह भी किया जा रहा है।
हमारा प्रयास है किसी को न हो परेशानी
ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि जिला प्रशासन का दृष्टिकोण बिल्कुल साफ है कर्फ्यू सोशल डिस्टेंसिंग के लिए लगाया गया है और इसकी वजह लोगों को अनावश्यक परेशानी नहीं होनी चाहिए। जितनी आवश्यक चीजें हैं उनकी उपलब्धता रहनी चाहिए । किसी को परेशानी नहीं आनी चाहिए। लोग जारी व्हाट्सएप नंबर पर अपनी बात हम तक पहुंचाएं तुरंत उनका समाधान किया जाएगा।
दिन रात जुटा है प्रशासन ताकि कर्फ्यू की वजह से भूखा न सोए एक भी व्यक्ति
दानी सज्जनों का आभार, एक दिन में आए 5 लाख रुपए

उन्होंने कहा कि प्रशासन यह सुनिश्चित बना रहा है कि कर्फ्यू की वजह से कोई भी व्यक्ति भूखा न सोए। प्रशासन, जिला रैडक्रॉस सोसायटी के जरिए इस कार्य को अमलीजामा पहनाने में जुटा है। इसमें असहाय, मजदूर-गरीब परिवारों दिहाड़ीदरों, खासकर उन लोगों जिनके राशन कार्ड यहां नहीं बने हैं उन्हें भोजन सामग्री उपलब्ध करवाई जा रही है। जिन लोगों के पास खाना बनाने की व्यवस्था नहीं हैं उन्हें पका हुआ खाना उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की गई है।
इस पुनीत काम में अनेक दानी सज्जन भी मदद के लिए आगे आए हैं। जिला रैडका्रॅस सोसायटी के खाते में एक ही दिन में 5 लाख रुपए की सहायता राशि लोगों से दान के तौर पर मिली है। उन्होंने इसके लिए सभी दानी सज्जनों का आभार जताया।
उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति इस कार्य में सहयोग करना चाहता हो तो वह रैडक्रॉस सोसायटी के बैंक खाते में सहायता राशि भेज सकता है। कोई भी व्यक्ति उपायुक्त एवं अध्यक्ष भारतीय रैडक्रॉस सोसायटी, जिला शाखा मंडी, खाता नंबर 3377000104129588, पंजाब नेशनल बैंक, शाखा स्कूल बाजार मंडी, हि.प्र., के नाम से सहायता राशि ऑन लाईन जमा करवा सकता है।
होम डिलीवरी के इंतजाम के प्रयास
उपायुक्त ने कहा कि जिला प्रशासन लोगों को घरों में राशन, दवाइयां एवं अन्य जरूरी सामान पहुंचाने की व्यवस्था बनाने की दिशा में काम कर रहा है। जल्द ही इसे लागू किया जाएगा। ताकि लोग घर से केवल फोन करें और उन्हें जरूरी सामग्री घर पर पहुंचा दी जाए, जिससे लोग बाहर कम से कम निकलें। इसे लेकर व्यापारिक प्रतिष्ठानों से भी बातचीत हुई है। सामग्री घर पहुंचाने का काम प्रशासन से जुड़े स्वयंसेवियों की मदद से किया जाएगा। जल्द ही इसे लेकर व्यवस्था बना ली जाएगी।

Have something to say? Post your comment
 
और हिमाचल खबरें
रविंदर ने सेवा करने की कायम की मिसाल, जरूरत मन्दो को जरूरी वस्तुओं और राशन का किया वितरण जलशक्ति मंत्री ने की कोरोना से बचाव के लिए उठाए कदमों की समीक्षा शिमला प्रेस क्लब ने स्नो व्यू में नेपाल व झारखंड के बेसहारा परिवारों को पहुंचाया राशन जिला ऊना में कोरोना का कोई मामला नहींः सीएमओ वट्सएप के माध्यम से पढ़ाई कर रहे ग्राहणा स्कूल के छात्र गोविंद ठाकुर ने ब्राण मंे प्रवासी मजदूरों को वितरित किया राशन मंडी में 128 लोगों ने पूरा किया 28 दिन का होम क्वारंटाइन दिल्ली में गैर-सरकारी संस्थाओं से हिमाचलवासियों की मदद का अनुरेाध बिधायक किशोरीलाल सागर ने अधिकारियों के साथ कि प्रबन्धों की समीक्षा 3 अप्रैल से स्वास्थ्य विभाग जिला ऊना के हर घर में करेगा स्क्रीनिंग